ट्रेंडिंग

चैत्र नवरात्र २०२३ (Chaitra Navratri 2023)

चैत्र नवरात्र २०२३ (Chaitra Navratri 2023): वर्ष २०२३ में चैत्र नवरात्र (Chaitra Navratra)  का आरंभ २२ मार्च, बुधवार से होगा और इस पर्व का समापन ३० मार्च को होगा। २२ मार्च को पर्व का आरंभ बहुत ही शुभ योग में हो रहा है। इस वर्ष दिनांक २१ मार्च २०२३ की सुबह के १२ बजकर ४२ मिनट से २२ मार्च २०२३ (प्रतिपदा तिथि) की सुबह तक शुक्ल योग का शुभ यो

चैत्र नवरात्र का महत्त्व

क्या है चैत्र नवरात्र का महत्त्व  (Importance of Chaitra Navratri) हिन्दू धर्म में नवरात्र (Navaratri) का पर्व बहुत ही महत्त्व रखता है। हिन्दू-पञ्चाङ्ग के अनुसार वर्ष में चार बार नवरात्र का पर्व आता है। जिसमें से एक चैत्र नवरात्र है। यह नवरात्र चैत्र महीने (अँग्रेज़ी कैलेंडर के अनुसार मार्च-अप्रैल का महीना) में आता है। हिन्दू-पञ

रामनवमी (Ramnavami)

वर्ष २०२4 में रामनवमी Ramnavami in 2024 रामनवमी (Ramnavami) का पर्व हिन्दुओं के लिए बहुत ही विशेष त्योहार है। भारतवर्ष और अन्य देशों में रह रहे भारतीय हिन्दू इस त्योहार को बहुत उत्साह और आस्था के साथ मनाते हैं। वर्ष 2024 में रामनवमी 17 अप्रैल, बुधवार को मनाई जाएगी। इस दिन मंदिरों में भजन, कीर्तन का आयोजन और रामचरित मानस (Ramcha

रामनवमी की पूजा विधि

रामनवमी के दिन भगवान श्रीराम की पूजा (Bhagvan Shriram Ki  Puja Vidhi) रामनवमी (RamNavami) के दिन भक्त-जन प्रातः उठकर स्नान -क्रिया आदि से मुक्त होकर सूर्यदेव को जल चढ़ाते हैं। कई लोग इस दिन व्रत भी रखते हैं। पूजा के समय श्रीराम (Shri Ram) सहित माता सीता, लक्ष्मण और हनुमान जी की पूजा और आरती (Hanuman Ji Ki Aarti) की जाती है। आरती से पहले श्रीराम, लक्ष

क्यों मनाते है रामनवमी

क्यों मनाते है रामनवमी? कलयुग में रामनवमी के दिन क्या हुआ था विशेष: जैसा कि हम सब जानते हैं कि कलयुग में श्रीरामचरित मानस (Shri Ramcharitmanas) का ज्ञान हम सभी को गोस्वामी तुलसीदास जी के माध्यम से ही हुआ है। दरअसल गोस्वामी तुलसीदास जी ने जिस दिन श्रीरामचरित मानस (Shri Ramcharit Manas) की रचना का आरम्भ किया था उस दिन रामनवमी थी। त

होली कब मनाई जाती है

होली कब मनाई जाती है? भारतवर्ष में होली का त्योहार (Festival of Holi) बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है, यह भारत देश का महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक प्रमुख त्योहार है। इसे हम रंगों के त्योहार के नाम सभी जानते हैं। पौराणिक कथाओं के अनुसार इसी दिन श्री हरि (Shir Hari) के भक्त प्रहलाद (Bhakt Prahlad) की रक्षा हुई थी। जिसके उपलक्ष्य में हम

होली कब है

होली कब है? वर्ष 2024 में होली कब मनाई जाएगी? रंगों का त्योहार होली (Rango ka Tyohaar Holi), भारत के सभी प्रमुख त्योहारों में अपना एक अलग स्थान रखता है। होली को लेकर हमारे देश में सभी के अंदर अलग उत्साह देखने को मिलता है तथा सभी धूमधाम से होली मनाते हैं। आज हम जानेंगे कि वर्ष 2024 में होली किस दिन मनाई जाएगी, होलिका दहन की

होलिका दहन कब है

2024 में होलिका दहन एवं होली सनातन धर्म  (Sanatan Dharma) में सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों की सूची में शामिल त्योहार होली (Holi) हर वर्ष हिंदू कैलेंडर के अनुसार  फाल्गुन महीने में मनाया जाता है। होली के ठीक एक दिन पूर्व हम होलिका दहन (Holika Dahan) की पूजा करते हैं। आज आर्टिकल में हम नए वर्ष 2024 में होली एवं होलिका दहन की शुभ

सद्गुरू महाशिवरात्रि आयोजन

Sadhguru Mahashivratri 2024 (सद्गुरू महाशिवरात्रि आयोजन 2024) महाशिवरात्रि की रात शिव भक्तों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होती है, इस दिन भगवान शिव  (Bhagwan Shiv) के अनन्य भक्त अपनी श्रद्धा अनुसार  अलग-अलग समारोह में हिस्सा लेते हैं। प्रत्येक वर्ष महाशिवरात्रि (Maha Shivratri) के दिन सद्गुरु के साथ इस महापर्व को मनाने का अवसर मिलता हैं। इस

महाशिवरात्रि पूजा 2024

महाशिवरात्रि पूजा (Mahashivratri celebration) भारत में धार्मिक त्योहारों को लेकर प्रत्येक व्यक्ति के अंदर अच्छा उत्साह  देखने को मिलता है। पूरे वर्ष भर में मनाये जाने वाले हर एक त्योहार के आने पर उसकी तैयारियां एवं त्योहार मनाए जाने का जोश सभी को अपनी तरफ आकर्षित कर लेता है। हमारे धार्मिक त्योहारों में से एक त्योहार

1 2 3

फ्री में अपने आर्टिकल पब्लिश करने के लिए पूरब-पश्चिम से जुड़ें।

Sign Up