होली कब मनाई जाती है

When is holi celebrated?

होली कब मनाई जाती है

भारतवर्ष में होली का त्योहार (Festival of Holi) बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है, यह भारत देश का महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक प्रमुख त्योहार है। इसे हम रंगों के त्योहार के नाम सभी जानते हैं।

पौराणिक कथाओं के अनुसार इसी दिन श्री हरि (Shir Hari) के भक्त प्रहलाद (Bhakt Prahlad) की रक्षा हुई थी। जिसके उपलक्ष्य में हम पहले होलिका (Holika) तथा बाद में होली का त्योहार मनाते हैं।

होली 25 मार्च

कहानियों के अनुसार जब हिरण्यकश्यप के समक्ष कोई भी व्यक्ति किसी देवी देवता की पूजा नहीं कर सकता था, ऐसे में प्रहलाद में अपने पिता के विचारों को ना मानते हुए श्रीहरि (Shri Hari) में अपनी संपूर्ण श्रद्धा एवं भक्ति भावना दिखाई, जिसके फलस्वरूप श्री हरि ने उसे अग्नि में जलने से बचा लिया था तथा प्रहलाद को गोद में लेकर बैठने वाली होलिका अग्नि में जल गई।

प्रहलाद के जीवन रक्षा की खुशी में लोगों ने रंगों का त्योहार अर्थात होली मनाया। होली के त्योहार को हम भक्ति की जीत के रूप में मनाते हैं।

तब से प्रत्येक वर्ष फाल्गुन पूर्णिमा के दिन होली का को जलाकर हम सभी के बीच होलिका दहन का आयोजन किया जाता है, तथा उसके एक दिन बाद धूम धाम से होली का त्योहार मनाया जाता है।

होलिका दहन 24 मार्च

वर्ष 2024 में होलिका दहन  (Holika Dahan) की तिथि को लेकर लोगों में संशय व्याप्त हैं, क्योंकि होलिका दहन का आयोजन प्रत्येक वर्ष हिंदू कैलेंडर की फाल्गुन महीने के पूर्णिमा के दिन किया जाता है, और इस वर्ष पूर्णिमा 24 मार्च  2024 को होगी। 

परंतु ज्योतिषियों के अनुसार होलिका दहन का शुभ मुहूर्त 24 मार्च  है, अतः होलिका दहन का कार्यक्रम 24 मार्च 2024 को ही संपन्न किया जाएगा।

होली से जुड़े प्रश्न और उत्तर 

प्रश्न: होली कब मनाई जाती है?

उत्तर: होली का त्योहार भारतीय हिंदू कैलेंडर के अनुसार फाल्गुन माह के पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस वर्ष, होली २५ मार्च को मनाई जाएगी।

प्रश्न: होली के त्योहार का महत्व क्या है?

उत्तर: होली को हम भक्ति की जीत के रूप में मनाते हैं। इस दिन को प्रहलाद की जीवन रक्षा की खुशी में लोगों ने रंगों का त्योहार मनाया।

प्रश्न: होली के त्योहार का आयोजन कब और कैसे होता है?

उत्तर: प्रत्येक वर्ष, फाल्गुन पूर्णिमा के दिन होली का त्योहार मनाया जाता है। इससे पहले, होलिका दहन का आयोजन किया जाता है, जो कि इस वर्ष २५  मार्च को होगा।

प्रश्न: होलिका दहन की तारीख और महत्व क्या है?

उत्तर: होलिका दहन फाल्गुन पूर्णिमा के दिन किया जाता है। इस बार होलिका दहन 24 मार्च को होगा।

  • Share:

0 Comments:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Format: 987-654-3210

फ्री में अपने आर्टिकल पब्लिश करने के लिए पूरब-पश्चिम से जुड़ें।

Sign Up